मुख पृष्ठ » उत्पाद » बीमा योजनाएं » LIC का नया टर्म अश्‍योरेंस राइडर – (UIN: 512B210V01) » पात्रता

 

पात्रता शर्त

1. पात्रता स्‍थितियां और अन्य प्रतिबंध:
a) प्रवेश पर न्यूनतम आयु : 18 वर्ष (पूर्ण)
b) प्रवेश पर अधिकतम आयु :60 वर्ष (निकटतम जन्‍मदिनांक)
c) अधिकतम कवर सीजिंग आयु : 75 वर्ष (निकटतम जन्‍मदिनांक)
d) राइडर की अवधि :5 से 35 वर्ष
e) न्‍यूनतम टर्म अश्‍योरेंस राइडर बीमित राशि :100000/- रुपए
f) अधिकतम टर्म अश्‍योरेंस राइडर बीमित राशि :2500000/- रुपए

अधिकतम टर्म अश्‍योरेंस राइडर बीमित राशि मूल पॉलिसी जिससे यह जोड़ी गई है उसके अंतर्गत मूल बीमित राशि / बीमित राशि / बीमित राशि (हैल्‍थ प्‍लान में) के बराबर या उससे कम होनी चाहिए, लेकिन सभी टर्म अश्‍यारेंस राइडर ले लेने के बाद कुल सीमा 25 लाख से अधिक नहीं होनी चाहिए, उसमें लाइफ इंश्‍योरेंस कॉर्पोरेशन ऑफ़ सभी मौजूद पॉलिसी और विचारांतर्गत नए प्रस्ताव भी शामिल है.

2. प्रीमियम भुगतान का माध्‍यम:

मूल पॉलिसी के समान जिससे राइडर जोड़ा गया है.

3. नमूना प्रीमियम दर:

निम्‍न सेवा कर के अलावा प्रति 1000 रुपए टर्म अश्‍योरेंस राइडर बीमित राशि पर नमूना प्रीमियम दर के उदाहरण हैं:

वार्षिक नियमित प्रीमियम (रुपयों में):
 
आयु(वर्ष) पॉलिसी की अवधि (वर्ष)
  10 20 30
20 1.61 1.61 1.89
30 1.88 2.44 3.51
40 3.67 5.52 7.63
50 9.18 12.61 --
वार्षिक सीमित प्रीमियम (रुपयो में):
 
आयु(वर्ष) पॉलिसी की अवधि = 10वर्ष पॉलिसी की अवधि = 20वर्ष पॉलिसी की अवधि = 30वर्ष
  PPT=5 PPT=9 PPT=10 PPT=15 PPT=10 PPT=20
20 2.62 1.61 2.49 1.88 3.67 2.30
30 3.23 1.96 3.87 2.92 6.76 4.26
40 6.30 3.83 8.67 6.56 14.31 9.12
50 15.58 9.56 19.30 14.80 -- --
एकल प्रीमियम (रुपयो में):
 
आयु(वर्ष) पॉलिसी की अवधि(वर्ष)
  10 20 30
20 10.81 17.77 26.15
30 13.36 27.57 48.14
40 25.96 61.36 101.34
50 63.76 134.05 --
5. प्रीमियम भुगतान के माध्‍यम और उच्‍च बीमित राशि के लिए छूट:

माध्‍यम छूट : मूल प्‍लान के समान

उच्‍च बीमित राशि छूट : शून्य

6. अनुग्रह अवधि:

मूल प्‍लान के समान वार्षिक, अर्द्धवार्षिक या त्रैमासिक राइडर प्रीमियम के लिए एक माह की अनुग्रह अवधि 30 दिनों से कम नहीं और मासिक राइडर प्रीमियम के लिए 15 दिन की अनुग्रह अवधि अनुमत है.

7. प्रदत्‍त मूल्‍य:

टर्म अश्‍योंरेस राइडर कोई प्रदत्‍त मूल्‍य नहीं अधिग्रहीत करेगा.

8. समर्पण मूल्‍य:

इस राइडर के अंतर्गत कोई समर्पण मूल्‍य उपलब्‍ध नहीं होगा. हालांकि राइडर से संबंधित सभी शेष प्रीमियम का भुगतान हो जाने पर राइडर से जुड़ी मूल पॉलिसी के समर्पण पर, पीपीटी के निम्‍न रूप से धन वापसी के बाद अतिरिक्‍त राइडर प्रीमियम का शुल्‍क लगाया जाएगा:

नियमित प्रीमियम पॉलिसी: कुछ भी धन वापसी नहीं होगी.
सीमित प्रीमियम देयता पॉलिसी:

  1. यदि पूर्ण प्रीमियम कम से कम इतने समय के लिए चुकाया गया हो, तो धन वापसी देय होगी
    - प्रीमियम देयता की अवधि के 10 वर्ष से कम होने पर पहले दो निरंतर वर्ष
    - प्रीमियम देयता की अवधि के 10 वर्ष या अधिक होने पर पहले तीन निरंतर वर्ष
  2. b) धन वापसी की राशि समर्पण की दिनांक साथ ही बीमित राशि, प्रीमियम देयता अवधि और राइडर की अवधि में शेष अवधि पर परिकलित मूल्‍य को 75% होगा.

एकल प्रीमियम पॉलिसीयां:
धन-वापसी की राशि राइडर की बकाया अवधि से मूल अवधि के अनुपात को राइडर के सिंगल प्रीमियम के गुणन का 90% होगा.

 
9. बहाली:

निरंतर बीमिता के संतोषजनक प्रमाण प्रस्‍तुत करने के अधीन, कवर राइडर के अंतर्गत समाप्ति आयु होने से पहले दो वर्षों के भीतर पहले शेष प्रीमियम का ब्‍याज सहित भुगतान करके चूका हुआ राइडर बहाल किया जा सकता है. राइडर को मूल पॉलिसी सहित बहाल किया जा सकता है न कि विलगन में. लागू ब्‍याज की दर निगम द्वारा समय-समय पर निश्‍चित की जाएगी.

10. कर:

सेवा कर सहित कर यदि कोई कर कानूनों के अनुसार होगा और कर की दर समय समय पर लागू होंगी. जारी दर के अनुसार कर की राशि किसी अतिरिक्‍त प्रीमियम सहित प्रीमियम पर पॉलिसीधारक द्वारा देय होगी. प्रदत्‍त कर की राशि राइडर के अंतर्गत देय लाभ के परिकलन के लिए नहीं किया जाएगा.

11. कूलिंग-ऑफ़ अवधि:

यदि कोई पॉलिसी धारक राइडर की ‘’नियम और शर्तों’’ से सहमत नहीं है, तो राइडर आपत्‍ति के कारणों को बताते हुए पॉलिसी प्राप्‍ति के 15 दिनों के भीतर निगम को लौटाई जा सकती है. इसकी प्राप्‍ति पर निगम राइडर रद्द करेगा और लौटाए गए पॉलिसी दस्‍तावेज़ की की प्राप्‍ति की दिनांक के समानुपातिक जोखिम प्रीमियम, मेडिकल जांच, राइडर सम्‍मिलन के लिए विशेष रिपोर्ट के शुल्‍क, और स्‍टैम्‍प ड्यूटी शुल्‍क काट कर जमा किया गया पीमियम लौटा देगा.

12. अपवर्जन:

आत्‍महत्‍या: राइडर अकेले जारी नहीं हो सकता और मूल प्‍लान से जुड़ा हुआ होगा. राइडर के संबंध में मूल नीति में उल्‍लेखित आत्‍म हत्‍या दावा प्रावधान लागू होगा.



बीमा अधिनियम, 1948 की धारा 45:

जीवन बीमा की किसी पॉलिसी की जिस दिन से समाप्‍ति प्रभावी हुई उसके दो वर्ष बाद, बीमाकर्ता द्वारा बीमा के प्रस्‍ताव में किए कथन, किसी मेडिकल अधिकारी की रिपोर्ट, या रेफरी, या बीमित के मित्र, या किसी अन्य दस्तावेज़ के आधार पर पॉलिसी के जारी होने को ग़लत, झूठा साबित करने वाला प्रश्‍न नहीं कर सकता है, जब तक कि बीमाकर्ता यह नहीं दिखाता है कि ऐसा कथन सामग्री तथ्‍य या छिपाया गया तथ्‍य है जिसका कि खुलासा किया जाना चाहिए था और यह पॉलिसी धारक द्वारा धोखाधड़ीपूर्ण तरीके से किया गया था और उस कथन को कहते समय पॉलिसी धारक यह जानता था कि वह ग़लत कथन है या छिपाया गया तथ्‍य है या इस सामग्री का खुलासा किया जाना चाहिए. बशर्ते इस अनुभाग में कुछ भी बीमाकर्ता को किसी भी समय आयु का प्रमाण ऐसा करने से रोकता हो, और कोई पॉलिसी इसलिए विचाराधीन नहीं हो सकती क्‍योंकि प्रस्‍ताव में जीवन बीमित की आयु गलत बताई गई इसके अनुवर्ती प्रमाण पर पॉलिसी समायोजित की गई है.


बीमा अधिनियम, 1938 की धारा 41

कोई व्यक्‍ति भारत में जीवन या संपत्‍ति के जोखिम से संबंधित बीमा लेने, फिर से नया करने, या जारी रखने के लिए किसी व्यक्ति को प्रत्‍यक्ष या अप्रत्‍यक्ष रूप से देय कमीशन के संपूर्ण या भाग के रूप में कोई छूट या पॉलिसी पर दिखाए प्रीमियम पर कोई छूट, प्रलोभन देने की अनुमति या प्रदान करने की अनुमति नहीं होगी, न ही कोई व्‍यक्‍ति जो पॉलिसी को लेने, फिर से नया करने या जारी रखने के लिए कोई छूट स्‍वीकार करेगा, सिवाय इसके कि ऐसी छूट प्रकाशित प्रोसपेक्‍टस या बीमाकर्ताओं की तालिकाओं के अनुसार देने की अनुमति है: बशर्ते जीवन बीमा की पॉलिसी के संबंध में बीमा एजेंट के द्वारा कमीशन जो कि उसने अपने स्‍वयं के जीवन पर लिया हो, उसकी स्‍वीकार्यता इस उपधारा के अर्थ प्रीमियम में छूट नहीं माना जाएगा, यदि ऐसी स्‍वीकार्यता के समय बीमा एजेंट यह स्‍थापित करने की निर्धारित शर्तों को संतुष्‍ट करता हो कि वह बीमाकर्ता द्वारा नियुक्‍त वास्‍तविक बीमा एजेंट है.
इस अनुभाग के प्रावधानों से डिफ़ाल्‍ट अनुपालन करने वाले व्‍यक्‍ति पर जुर्माने का दंड लगाया जाएगा जोकि 500 रुपए तक बढ़ सकता है.

 

ध्‍यान दें: ‘’लागू शर्तों’’ के लिए हमारे निकटतम शाखा कार्यालय में पॉलिसी दस्‍तावेज़ या अनुबंध देखें.
 

जाली फ़ोन कॉल और काल्‍पनिक / जालसाजी के प्रस्‍तावों से सावधान रहें IRDA सार्वजनिक रूप से स्‍पष्‍ट करता है कि
  • IRDA या इसके अधिकारी किसी प्रकार के बीमा या वित्‍तीय उत्‍पाद की बिक्री या प्रीमियम निवेश जैसी गतिविधियों में शामिल नहीं हैं.
  • IRDA किसी प्रकार के बोनस की घोषणा नहीं करता है.
ऐसी फ़ोन कॉल प्राप्‍त कर रहे लोगों से अनुरोध है कि फ़ोन कॉल, नंबर के विवरण के साथ शिकायत दर्ज कराएं.

‘’बीमा बढ़ावे के विषयाधीन है’’
पंजीकृत कार्यालय:
भारतीय जीवन बीमा निगम
केंद्रीय कार्यालय, योगक्षेम,
जीवन बीमा मार्ग,
मुंबई - 400021.
वेबसाइट: www.licindia.in
पंजीकरण संख्‍या : 512

Top